Demo

आगरा में भीषण गर्मी से लोग परेशान हैं। ऐसे में जल संकट भी गहराने लगा है। इससे कई इलाके के लोग परेशान हैं। शुक्रवार को दयालबाग स्थित जागेश्वर नगर की महिलाओं ने हाथों में खाली बर्तन लेकर प्रदर्शन किया। उन्होंने नगर निगम के खिलाफ नारेबाजी की। कई-कई सप्ताह तक पानी नहीं आने की शिकायत की।महिलाओं का कहना है कि भूमिगत जल खारा है। गंगाजल की लाइन डाली गई है। मगर, गंगाजल नहीं आता। दयालबाग के कई इलाकों में लायर्स कालोनी स्थित टंकी से पानी की सप्लाई होती है, जबकि आबादी अधिक है। टंकी कम होने से एक इलाके में सप्लाई रोककर दूसरे में की जाती है। इससे कई-कई दिन तक समस्या बनी रहती है।शुक्रवार को जागेश्वर नगर की रहने वाली रजनी सिंह, विद्या देवी, मुन्नी, बबली सिंह, सुनैना सिंह, प्रीति कुमारी, रिंकी सिंह, सोनम कुशवाहा, मधु बघेल, शकुंतला देवी आदि घर से खाली बर्तन लेकर आईं। उन्होंने नगर निगम के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। उनका कहना था कि शिकायत के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हो रहा है। दयालबाग क्षेत्र के रहने वाले सौरभ चौधरी ने बताया कि एक ही टंकी होने से यह समस्या उत्पन्न हो रही है। कई काॅलोनियों में गंगाजल की आपूर्ति लाइन डाल दी गई, लेकिन पानी की सप्लाई नहीं हो रही है। मुख्य लाइन में नहीं पाइप न जोड़े जाने से लोगों को पानी नहीं मिल पा रहा है।दयालबाग में भीम नगर, कृष्णा बाग, सुदामा बाग, जागेश्वर नगर, कृष्णा बाग, निराला नगर, टैगोर नगर, दयानंद नगर, सौरभ निकुंज, पंजाबी बाग सहित 30 कालोनियों के लोगों को जल संकट का सामना करना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें _हिमाचल:पर्यटकों में रोहतांग दर्रा जाने के लिए मारामारी, ट्रैफिक जाम ने बढ़ाई परेशानी

जलकल विभाग के महाप्रबंधक कुलदीप सिंह ने बताया कि दयालबाग के कुछ इलाकों में समस्या है। जिसे दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। 98 करोड़ के प्रोजेक्ट पर कार्य शुरू हो चुका है। 3 टंकी पानी की सप्लाई के लिए पहले से हैं। 3 नई और बनाई जा रही हैं। जल्द ही समस्या का समाधान किया जाएगा।

Leave A Reply